ट्रेडिंग सिद्धांत

विदेशी मुद्रा से जुड़े सभी ट्रेडर्स सर्वोत्तम नतीजे हासिल करने की कोशिश करते हैं। लेकिन, मुनाफ़े के साथ ट्रेड करने के लिए, ट्रेडर्स को कुछ विदेशी मुद्रा सिद्धांतों को जानने और उनका पालन करने की ज़रूरत है।

  • अपनी ट्रेडिंग रणनीति बनाएं। फ़ॉरेक्स ट्रेडिंग के ज़रूरी कारकों पर आधारित अपनी ख़ुद की प्रणाली तैयार करें।
  • अपनी भावनाएं नियंत्रित रखें। अस्थिर भावनात्मक स्थिति सही निर्णय लेने में रुकावट डाल सकती है। अपनी भावनाओं और इच्छाओं को नियंत्रित करना सीखें।
  • अपना ऐतिहासिक डेटा रखें। लिखें कि ऑर्डर्स को खोलने/बंद करने का फ़ैसला आपने किन परिस्थितियों और किन कारणों से लिया और हर परिस्थिति पर अपनी टिप्पणी जोड़ें। अपने काम के नतीजों की नियमित रूप से समीक्षा करें।
  • अपनी गलतियों से सबक लें। विश्लेषण और गलतियों पर काम एक सफल ट्रेड के सबसे महत्वपूर्ण हिस्सों में से हैं। नुकसान के विश्लेषण में अपनी गलतियां ढूंढना बहुत ज़रूरी है। नुकसान के कारणों को समझने के बाद, आप इन गलतियों को दोहराने से बच सकते हैं।
  • बिना कारण ट्रेडिंग न करें। ट्रेडिंग प्लेटफ़ॉर्म को सिर्फ़ इसलिए न खोलें क्योंकि आपके पास करने के लिए कुछ नहीं है या आपको नींद नहीं आ रही है। ट्रेडिंग तब करें जब इसे करने की उचित वजह हो।
  • अपने हिसाब से काम करें और सोचें। किसी अन्य व्यक्ति से सहायता और संकेत मददगार हो सकते हैं, लेकिन फ़ॉरेक्स ट्रेडिंग करते समय नहीं। आप अनुभवी ट्रेडर्स की सलाह पर विचार कर सकते हैं, लेकिन बिना सोचे समझे इसका इस्तेमाल न करें। आप प्रगति सिर्फ़ तब करेंगे जब आप अपना विश्लेषण करेंगे, अपनी रणनीतियां तैयार करेंगे और सिर्फ़ अपने फ़ैसलों पर भरोसा करेंगे।
  • ट्रेडिंग तब करें जब आपको ख़ुद पर यक़ीन हो। परिस्थिति को बिना समझे ऑर्डर खोलने की बजाय बाज़ार में प्रवेश करने के लिए उपयुक्त समय का इंतज़ार करना बेहतर है। सही समय पर बाज़ार में प्रवेश करना और बाहर निकलना ज़रूरी है। अगर आपको ख़ुद पर यक़ीन नहीं है, तो जोखिम न उठाएं। कुछ खोए हुए पिप्स की तुलना जल्दबाज़ी में किए गए कदम से हुए बड़े नुकसान के साथ नहीं की जा सकती है। ऑर्डर थोड़ा बाद में खोलें: बाज़ार कहीं नहीं जा रहा है।
  • अपने जोखिम को सीमित करें। सिर्फ़ उतने ही धन का उपयोग करें, जिसके नुकसान से परिवार के बजट पर असर नहीं पड़ेगा।
  • अपनी सीमाएं जानें। ख़ुद को रोकना सीखें।
  • शुरुआती सफलता से होशियार रहें। कुछ सौ डॉलर के मुनाफ़े की ख़ुशी को अपने सिर पर न चढ़ना दें, कहीं आप वापस दो पर न पहुँच जाएं।
  • बाज़ार के खिलाफ़ ट्रेडिंग न करें। अगर अनुभव की कमी है, तो बेहतर होगा कि जोखिम न लें। एक ख़ास दिशा में मूल्य के चलने की प्रक्रिया में, बाज़ार में उतार-चढ़ाव होते हैं। अल्पकालिक उतार-चढ़ाव का उपयोग करने के बारे में जानने के लिए, आपको अनुभव हासिल करना होगा, और इस तरह आप जोखिम कम कर पाएंगे।

Justforex के साथ एक लाइव खाता खोलें और जानें कि ये सिद्धांत आपको ट्रेडिंग में मुनाफ़ा कमाने में कैसे मदद कर सकते हैं।

लेखक: Justforex, 24.10.2016

पिछले लेख
सभी लेख
भारत में फोरेक्स ट्रेडिंग करने के लिए गाइड
जानें कि भारत में फोरेक्स मार्केट में ट्रेडिंग कैसे शुरू की जाती है। कर्रेंसीज को ट्रेड करने के लिए सबसे अच्छा ब्रोकर और सबसे अच्छा समय चुनें।
ज़्यादा जानकारी पढ़ें
क्या फॉरेक्स निवेश के लायक है?
क्या यह फॉरेक्स ट्रेडिंग शामिल होने लायक है? फॉरेक्स ट्रेड के लाभों के बारे में जानें और पता करें कि क्या यह आपके समय के लायक है।के लिए इस लेख को पढ़ें।
ज़्यादा जानकारी पढ़ें
क्रिप्टोकरेंसी को कैसे खरीदें और बेचें5 तरीके
क्रिप्टोकरेंसी ट्रेडिंग के लिए स्टेप-बाय-स्टेप गाइड। नुकसान से कैसे बचें? कौन से कोइन्स खरीदें? क्रिप्टोकरेंसी के फायदे और जोखिम।मार्केट ट्रेडिंग कहां से सीखें?
ज़्यादा जानकारी पढ़ें