भारत में फॉरेक्स ट्रेडिंग कैसे शुरू करें

हैलो, भविष्य के फॉरेक्स ट्रेडर। आप यहां यह समझने के लिए आए हैं कि फॉरेक्स मार्केट में सब कुछ कैसे काम करता है और भारत में फॉरेक्स ट्रेडिंग कैसे शुरू करें। अभी आपके दिमाग में कई सवाल हो सकते हैं, लेकिन हमें यकीन है कि जब आप इस आर्टिकल को A से Z तक पढ़ तो लेंगे तो आपके सवाल बहुत कम हो जाएंगे। फॉरेक्स ट्रेडिंग कभी भी और कहीं भी पैसा कमाने के बारे में है। आप जिस तरह से इस यात्रा को शुरू करते हैं वह एक ट्रेडर के रूप में आपके भविष्य को तय करती है।

विचार करने लायक बातें

  • फॉरेक्स करेंसी ट्रेडिंग के लिए एक ग्लोबल ओवर-द-काउंटर मार्केट है।
  • यह मार्केट दुनिया के विभिन्न हिस्सों में 24/5 संचालित होता है, रविवार को शाम 5 बजे EST से शुक्रवार शाम 4 बजे EST तक।
  • फॉरेक्स मार्केट को दुनिया में सबसे ज्यादा लिक्विड और सबसे बड़ा मार्केट माना जाता है।
  • चार प्रमुख फॉरेक्स एक्सचेंज हैं जो न्यूयॉर्क, सिडनी, टोक्यो और लंदन में स्थित हैं।
  • बैंक, निगम, निवेश प्रबंधक और हेज फंड, व्यक्तिगत ट्रेडर, और ब्रोकर्स मुख्य फॉरेक्स मार्केट सहभागी हैं।
  • जब कोई ट्रेडर एक करेंसी पेयर खरीदने का आदेश देता है, तो वह पहली सूचीबद्ध करेंसी (बेस करेंसी) खरीदता है और दूसरी (क्वोटिड करेंसी) बेचता है।
  • EUR/USD करेंसी पेयर लिक्विड होने के मामले में पहले पर है और उसके बाद USD/JPY का स्थान आता है।

फॉरेक्स ट्रेडिंग कभी भी और कहीं भी पैसा कमाने के बारे में है। आप जिस तरह से इस यात्रा को शुरू करते हैं वह एक ट्रेडर के रूप में आपके भविष्य को तय करती है।

भारत में फॉरेक्स ट्रेडिंग के प्रमुख लाभ

फॉरेक्स ट्रेडिंग पहले से ही भारतीयों के लिए एक नई वास्तविकता है। ट्रेडर्स की टीम में शामिल होते समय आपको जिन कारणों पर विचार करना चाहिए, वे यहां दिए गए हैं:

लिक्विडिटी। फॉरेक्स लिक्विडिटी के बराबर होता है। इसका मतलब है कि आप बिना किसी समस्या के आसानी से बड़ी रकम को निवेश और विथ्ड्रॉ कर सकते हैं। नकद सबसे अधिक लिक्विड संपत्ति है।

पहुंच-योग्यता। अन्य मार्केट्स की तुलना में, इसमें शुरू करना आसान है। शुरुआती एक डेमो अकाउंट से शुरू कर सकते हैं और बिना किसी डिपॉज़िट के वास्तविक मार्केट की स्थिति का विश्लेषण करना सीख सकते हैं। साथ ही, आपके ज्ञान और कौशल को बढ़ाने के लिए बहुत सारी सामग्रियां उपलब्ध हैं। ऐसे कई ब्रोकर हैं जिनके पास 24/7 ट्रेडर्स के मुद्दों को हल करने के लिए एक सपोर्ट टीम तैयार है।

कम ट्रान्ज़ैक्शन लागत। एक ट्रान्ज़ैक्शन की लागत स्प्रेड्स में मापी जाती है, जो बदले में, पिप्स में मापे जाते है। दशमलव बिंदु के बाद एक पिप पांचवें स्थान पर जाता है (उदाहरण के लिए, यदि बोली(bid) मूल्य 1.42224 है और पूछ(ask) मूल्य 1.42226 है, तो ट्रान्ज़ैक्शन स्प्रेड 2 पिप्स होता है)। तो, एक ब्रोकर उन 2 पिप्स को उनकी सेवाओं के भुगतान के रूप में लेगा।

लीवरेज। ट्रेडर्स लीवरेज की महत्वपूर्ण मात्रा के साथ ट्रेडिंग ऑपरेशन्स कर सकते हैं। इसका सीधा सा मतलब है कि अगर ऐसी कोई रिक्वेस्ट है तो ब्रोकर्स पैसे के साथ ट्रेडर्स का समर्थन करने के लिए तैयार हैं। मान लें कि एक ट्रेडर का लीवरेज 1:100 है, तो केवल $1,000 के साथ वह $100,000 के ट्रेड को नियंत्रित कर सकता है। बहुत बढ़िया, है ना?

How to Start Trading Forex in India?

भारत में फॉरेक्स ब्रोकर कैसे खोजें?

यह एक बहुत ही महत्वपूर्ण चरण है क्योंकि आपका ट्रेडिंग अनुभव ब्रोकर के प्रोफेशनलिस्म के लेवल पर बहुत ज्यादा निर्भर करता है। आपको अपना होमवर्क करना चाहिए और मात्रा से अधिक गुणवत्ता को प्राथमिकता देनी चाहिए। हां, इसमें समय लगता है, लेकिन एक विश्वसनीय ब्रोकर वह है जो किसी भी परेशानी के मामले में आपका समर्थन कर सकता है। हम बहुत ही ज़ोर देकर निम्नलिखित कदम उठाने की अनुशंसा करते हैं:

  • समीक्षा पढ़ें। Trustpilot जैसे स्वतंत्र प्लेटफॉर्म आपको आपके सवालों के जवाब देंगे क्योंकि हजारों ब्रोकर इस बारे में अपने विचार शेयर कर रहे हैं।
  • ब्रोकर की ट्रेडिंग कंडिशन्स का अध्ययन करें। विभिन्न आश्चर्यों से बचने के लिए, ब्रोकर द्वारा दी जाने वाली ट्रेडिंग कंडिशन्स का गहराई से विश्लेषण आवश्यक है। प्रत्येक ब्रोकर जो आपको फॉरेक्स मार्केट से जोड़ता है, उनके कुछ गुण और दोष होंगे जिनके बारे में आपको निर्णय लेने के लिए से पहले पता होना जरूरी है। यदि अभी भी कुछ सवाल बाकी हैं, तो आप सीधे ब्रोकर से संपर्क कर सकते हैं।
  • ग्राहक सेवा। यह जानना महत्वपूर्ण है कि एक विश्वसनीय सहायता टीम है जो किसी भी समय और कहीं भी किसी भी मुद्दे को हल करने के लिए तैयार है। उनकी क्षमता के स्तर पर ध्यान दें क्योंकि वे रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया और पहले चरणों के दौरान सहायक हो सकते हैं, लेकिन एक भयानक समर्थन टीम है उन ट्रेडर्स के लिए जिनके पास हल करने के लिए रोज कुछ न कुछ समस्याएं होती हैं।

ट्रेडिंग शुरू करने के लिए आपको कितना पैसा चाहिए?

सब कुछ उस ब्रोकर पर निर्भर करता है जिसके साथ आप सहयोग करते हैं। Justforex आपको केवल $1 डिपॉज़िट करके ट्रेडिंग शुरू करने का एक शानदार अवसर प्रदान करता है। हां, शानदार रिटर्न के लिए यह काफी नहीं है, लेकिन हर कोई इस तरह से शुरू करता है। स्टेप-बाय-स्टेप अप्रोच सफलता की नींव है जिसे अनदेखा नहीं किया जा सकता है। आप ट्रेडिंग के बारे में उतना नहीं जानते हैं की अपने डिपॉज़िट को जोखिम में डाल दें, इसलिए यह अभ्यास करने और अपनी गलतियों से सीखने का एक अच्छा अवसर है।

विशेषज्ञता हमेशा अनुभव के साथ आती है, इसलिए आप उस मुकाम पर आ जाएंगे जहां आप अपने डिपॉज़िट को बढ़ाने में सहज होंगे। याद रखने वाली एक महत्वपूर्ण बात यह है कि आपको उतना ही जोखिम उठाना चाहिए जितना आप खो सकते हैं।

आप ट्रेडिंग के बारे में उतना नहीं जानते हैं की अपने डिपॉज़िट को जोखिम में डाल दें, इसलिए यह अभ्यास करने और अपनी गलतियों से सीखने का एक अच्छा अवसर है।

भारत में फॉरेक्स ट्रेडिंग कैसे शुरू करें?

मुझे किससे शुरुआत करनी चाहिए? क्या इस स्टेज पर करना सही है? यदि आप ट्रेडर बनने के लिए अनुशंसित चरणों का पालन नहीं करते हैं तो आप हर समय ऐसे सवाल आपको परेशान करते रहेंगे:

  • फॉरेक्स के बारे में जानें। बुनियादी बातों से शुरू करें। आप उस क्षण में आ जाएंगे जहां एनालिटिक्स पढ़ना आपके ट्रेडिंग दिन का एक जरूरी हिस्सा होगा, इसलिए आपको यह समझने की जरूरत है कि यह किस बारे में है। तो, यहां पहली बात फॉरेक्स शब्दावली है जिसे संदर्भ में सीखना बेहतर है। फॉरेक्स की लोकप्रियता को कम नहीं आंका जा सकता है; आपके ट्रेडिंग के ज्ञान को बढ़ाने के लिए बहुत सारी सहायक सामग्रियां हैं।

  • एक ट्रेडिंग अकाउंट खोलें। ब्रोकरेज में अकाउंट खोलकर वास्तविक मार्केट को अंदर से देखना संभव है। याद रखें कि आपको कोई कमीशन नहीं देना है। ब्रोकर्स, स्प्रेड (खरीद और बिक्री की कीमतों के बीच का अंतर) के माध्यम से पैसा कमाते हैं।
  • अपनी ट्रेडिंग रणनीति पर काम करें। मार्केट का अनुमान नहीं लगाया जा सकता है। ऐसे कई सारे फैक्टर हैं जो मूल्य के उतार-चढ़ाव को महत्वपूर्ण रूप से प्रभावित कर सकते हैं, राजनीतिक समाचारों से लेकर मौसम परिवर्तन तक। रणनीति एक ऐसी चीज है जिस पर आप हमेशा भरोसा कर सकते हैं, और यह आपको ज्यादा तर्कसंगत और अनुशासित बनाती है। एक अच्छी ट्रेडिंग रणनीति काफी हद तक आपके व्यक्तित्व, प्राथमिकताओं और वित्तीय स्थिति पर आधारित होती है।

  • नंबर्स पर ध्यान दें। आपको दिन के अंत में हमेशा अपनी पोजीशन का विश्लेषण करना चाहिए। सुनिश्चित करें कि आपके पास अपने ट्रेडिंग ऑपरेशन्स को जारी रखने के लिए पर्याप्त पैसा है या यह चेक करें की अगली बार अलग और बेहतर तरीके से क्या किया जा सकता है।
  • बदलावों से अवगत रहें। लाभ के साथ फॉरेक्स ट्रेड करने के लिए, अवलोकन और पूर्वानुमान पढ़ना महत्वपूर्ण है।

भारत में ट्रेडिंग अकाउंट कैसे खोलें?

आप लिंक को फॉलो करके और रजिस्ट्रेशन फॉर्म भरकर आसानी से Justforex के साथ एक ट्रेडिंग अकाउंट खोल सकते हैं। एक ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म (MT4 या MT5) डाउनलोड करने के बाद, आपको अपने ईमेल अड्रेस के साथ साइन इन करना होगा, और बस हो गया, आप एक ट्रेडर हैं। डिपॉजिट करें और भारत में ट्रेडिंग शुरू करें।

आखिरी बातें

यह मुश्किल और भारी लग सकता है, लेकिन अगर कोई व्यक्ति जानता है कि वह क्या चाहता है, तो फिर कोई सीमा नहीं है। आपको बस इतना करना है कि एक ट्रेडर के रूप में आप असल में क्या चाहते हैं, इसके बारे में खुद से एक सवाल पूछें, और आपको सीखने की सभी सीढ़ियों में जवाब मिलेंगे।

Justforex के बारे में

Justforex एक अंतरराष्ट्रीय ब्रोकर है, जिसके पास 197 देशों के ग्राहक हैं। लाखों लोगों ने सबसे अच्छी कंडिशन्स का लाभ उठाने के लिए Justforex पर ट्रेडिंग अकाउंट पहले ही खोल दिए हैं, जिसमें कम स्प्रेड्स, कमीशन-फ्री विथ्ड्रॉअल्स और सपोर्ट के लिए एक सहायक टीम शामिल है, जो यह सुनिश्चित करने के लिए चौबीसों घंटे काम करती है कि हमारे प्रत्येक ग्राहक के पास सबसे सुविधाजनक ट्रेडिंग अनुभव है।

करेंसी ट्रेडिंग में अपना हाथ आजमाने के लिए Justforex पर एक डेमो अकाउंट खोलें। यह सबसे अधिक लिक्विड वित्तीय मार्केट में ट्रेडिंग करना सीखने का एक जोखिम-मुक्त तरीका है। कोई भी पैसा निवेश करने से पहले एक शिक्षण अकाउंट आपको ट्रेडिंग मूल बातें सीखने और अपनी रणनीति विकसित करने में मदद करेगा। अपने कल का भविष्य संवारने के लिए आज ही ट्रेडिंग सीखें।

लेखक: Justforex, 15.06.2021

पिछले लेख
सभी लेख
भारत में फॉरेक्स ट्रेड करने का सबसे सही समय
भारत में फॉरेक्स ट्रेड करने का सबसे सही समय क्या है? Justforex पर भारत में फॉरेक्स ट्रेडिंग करने के लिए विस्तृत शेड्यूल प्राप्त करें।
ज़्यादा जानकारी पढ़ें
भारत में फोरेक्स ट्रेडिंग करने के लिए गाइड
जानें कि भारत में फोरेक्स मार्केट में ट्रेडिंग कैसे शुरू की जाती है। कर्रेंसीज को ट्रेड करने के लिए सबसे अच्छा ब्रोकर और सबसे अच्छा समय चुनें।
ज़्यादा जानकारी पढ़ें
क्या फॉरेक्स निवेश के लायक है?
क्या यह फॉरेक्स ट्रेडिंग शामिल होने लायक है? फॉरेक्स ट्रेड के लाभों के बारे में जानें और पता करें कि क्या यह आपके समय के लायक है।के लिए इस लेख को पढ़ें।
ज़्यादा जानकारी पढ़ें